e1.v-koshevoy.ru

New Hindi Sex Stories

डर से लंड कद्दू से मिर्च हो गया

राघव ने अब तक जितनी भी लड़कियों को कोचिंग पढ़ाया था काजल उन सबसे सेक्सी और चुदाई के लिए पकी हुई थी. इंजिनियरिंग के सेकेंड एअर में पढ़ रहे राघव ने इससे पहले केवल 7th – 8th के स्टूडेंट्स को कोचिंग पढ़ाया था… उस उम्र में कुछ लड़कियों के स्तन उभर तो आते हैं पर जो आकार और गोलाई 11th में पढ़ रही काजल की चुचियों में था वो उनमे में नही था. और उस समय राघव भी कहाँ केयर करता था. इंजिनियरिंग कॉलेज में आने के बाद ये तीसरी लड़की है जिसे राघव कोचिंग पढ़ा रहा था. इससे पहले उसने सोनाली और गुंजन को पढ़ाया था. सोनाली तो दुबली पतली थी और उसकी चुचियाँ अभी तक विकसित नही हुई थी. हां गुंजन सेक्सी थी और इसे लाइन भी दे रही थी पर राघव को कभी हिम्मत ही नही हुई पहल करने की. छोटे सहर के संस्कारी वातावरण से आए राघव के लिए ये समझना बहुत कठिन था कि गुंजन जान बूझ कर अपने ब्रा और चुचियाँ उसे दिखा रही है या बस ग़लती से उसे दिख जा रहा है. अपनी ग़लती का एह्शास तो उसे तब हुआ जब एग्ज़ॅम से पहले वो गुंजन को बेस्ट ऑफ लक विश करने गया था तो घर में अकेली गुंजन ने उससे लिपट कर उसकी छाती पर अपनी चुचियाँ दबा दी थी. जब राघव के उम्मीद से अधिक देर तक और अधिक ज़ोर से गुंजन उससे लिपटी रही तो राघव की पैंट में कुछ गतिविधि हुई और उसका हाथ गुंजन की छोटी सी स्कर्ट में छिपी गोल कोमल गांड पर गया. गुंजन ने अपने पैर उपर उठा राघव की पैंट में उभड़ रहे पर्वत को उसके अनुकूल स्थान के निकट ला दिया. राघव के हाथों का ज़ोर बढ़ा और उसने गुंजन को बगल की दीवार की ओर धकेल कर उसके बदन को अपने बदन से मसल्ने लगा. गुंजन ने आँखे बंद कर अपने चेहरे को उपर की तरफ उठाया, राघव ने आमंत्रण स्वीकार करते हुए उसके गुलाब के पंखुरियों समान नशीले होंठों पर चुंबन जड़ दिया. गुंजन ने अपने मुँह को खोल राघव की जीभ को उकसाया. सिर्फ़ राघव की जीभ गुंजन के मुँह में नही गयी, उसका हाथ भी गुंजन की शर्ट में घुस उसकी ब्रा में दबी रसगुल्ले जैसी चुचियों को मसल्ने लगा था. गुंजन के संपूर्णा समर्पण से प्रोत्साहित हो राघव उसकी शर्ट के बटन को खोल काले ब्रा में आधी धकी हुई सफेद चुचियों के गुलाबी निपल को चूसने लगा. राक कॉन्सर्ट के ड्रम की तरह धड़कते दिल, धड़कन के साथ लयबद्ध हो फूलती चुचियाँ, और वॅक्यूम क्लीनर की तरह चलती साँसों के साथ दीवार से अटकी गुंजन अपनी आँखे बंद सबकुछ लुटाने को तैयार खड़ी थी. उसकी चुचियों से सारे रस को निचोड़ लेने के बाद राघव अपने लक्ष्या की तरफ बढ़ा, स्कर्ट खोल कर नीचे गिरने और स्कर्ट सरका कर रेशमी बालों के बीच सुगंध बिखेरती अमृत टपकाती गुंजन की गुलाबी चूत को प्रकाशमान करने में राघव को अधिक वक़्त नही लगा. चूत को पहली बार आँखों के सामने प्रत्यक्ष देख कर राघव के मुँह और लंड दोनो से लार टपक पड़ी. अपनी उंगलियों के नाख़ून को अपनी हथेली में दबाती हुई, अपने निचले होंठ को दांतो तले दबा, आँखों को बंद कर बढ़ती धड़कन और तेज़ होती साँसों के साथ गुंजन मुर्तिवत खड़ी हो अपनी पंखुरियों के खुलने और भवरे द्वारा रस को चूसने का इंतेज़ार कर रही थी. थोड़ी देर रेशमी झाड़ियों से खेलने के बाद राघव की उंगलियाँ शबनम से गीली हो चुकी गुलाबी पंखुरियों के बीच जा पहुँची. उन पंखुरियों के गीलेपन, चिकनाई और गर्मी का एह्शास करते हुए उसकी उंगली प्रेम की गहराइयों में जा घुसी. गुंजन मचल उठी, उसके मुँह से सिसकारियाँ निकल गयी. सिसकारियो ने राघव को भी जोश में ला दिया और राघव की उंगलियाँ गहराई में जा उस कच्ची कली की सिंचाई करने लगी. उंगलियों से सिंचाई कर कली को फूल बनाने की पूरी तैयारी कर राघव कली को फूल बनाने के लिए बिस्तर पर ले गया और अपनी पैंट की ज़िप को खोल जल से भरे ट्यूबिवेल को बाहर निकाला. तभी किसी के आने की आहट सुनाई दी. गुंजन स्प्रिंग की तरह उच्छल कर अपने स्कर्ट की ओर लपकी और अपने कपड़े ठीक करने लगी. राघव ने भी जल्दी से अपने हथियार को अंदर डाला और गुंजन के कमरे से निकल कर भागा.  आप लोग यह कहानी मस्तराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है |
इसके बाद तो एग्ज़ॅम हुए, फिर कोचिंग बंद और फिर दोनो को कभी मिलने का मौका नही मिला. चुदाई के इतने नज़दीक पहुँच कर मिस कर जाने पर राघव पागल हो उठा था. उस दिन की घटना को, गुंजन के नंगे बदन को याद कर कर राघव ना जाने कितनी ही बार हिला चुका था. पर जो मज़ा असली चुदाई का है वो हाथ में कहाँ. काजल को पहली बार देख कर राघव का लंड अपनी अधिकतम लंबाई पर पहुँच गया था. उसने उस रात तीन बार हिलाया. काजल गुंजन से ठीक उल्टी थी. वो गाओं से पहली बार 11थ की पढ़ाई करने आई थी. उसके पिताजी किसान थे और सबलॉग गाओं के संस्कारों के पुजारी थे जहाँ गुरु को भगवान से भी उँचा दर्जा दिया जाता है. राघव के घर पहुँचने पर काजल की मा हाथ जोड़ कर राघव को प्रणाम करती और काजल पावं च्छू कर प्रणाम करती. दूसरे माले पर काजल का बेडरूम था, कोचिंग वहीं चलता और बस एक कप चाइ देने के लिए काजल की मा उपर आती, इसके अलावा उपर कोई देखने नही आता. काजल नज़र उठा कर भी राघव की तरफ नही देखती. वो तो बेचारी ठीक से कुछ बोल ही नही पाती. बस सर हिला कर राघव के सवालों का जवाब देती. राघव इस मौके का खूब फायेदा उठाता और काजल के समीज़ से अंदर और समीज़ के उपर से काजल के पर्वतों को इतना घूरता कि उसकी पैंट पर पर्वत खड़ा हो जाता. काजल का जिश्म जितना विकसित था, मस्तिष्क उतना ही अविकसित. वो अपने आदरणीय गुरुजी को प्रसन्न रखने का प्रयास तो बहुत करती पर मैथ और फिज़िक्स उसके दीमाग में घुसता ही नही था. केयी बार तो उसकी मंद बुद्धि से राघव क्रोध में आ उसे डाँट देता और तब उसका गोरा चेहरा लाल हो जाता जो काजल को और भी मादक बना देता था.

कहानी जारी है…. आगे की कहानी पढ़ने के लिए निचे दिए गये पेज नंबर को क्लिक करे …..

e1.v-koshevoy.ru: Hindi Sex Kahani © 2015

Online porn video at mobile phone


"kutte se chudai ki kahani""maa ki chut ki kahani""आई मुलगा झवाझवी""chachi ki sex kahani""randi ki chudai kahani""romantic sex kahani""sexy story maa beta""chodan com hindi story""mausi ki bur""bhai behan kahani""maa beti sex story""mastaram sex story""lesbian sex stories in hindi""teacher student sex story in hindi""chachi ko pregnent kiya""mastram chudai story""meri pehli chudai""mastram ki sexi kahaniya""मराठी अश्लिल कथा""antarvasna hindisexstories""didi ki mast chudai""chachi bhatije ki chudai""group me chudai ki kahani""maa ki gand marne ki kahani""bap beti antarvasna""chachi ko maa banaya"antarvasnasexstories"chachi ki sex story""bete ka mota lund""kamasutra story in tamil""gujarati chodvani varta""papa ke boss ne choda""mastram ki sexy story""mastram ki hindi sex story""antarvasna marathi katha"मसतराम"chachi ki chudai sex story""baap beti sex kahani hindi""kaumkta com""chudai ke kisse""हिन्दी सैक्स कहानी""लेस्बियन सेक्स स्टोरी""gujrati sexstory""maa beta sex kahani""sex mastram""antarvasna chachi ki chudai""kamasutra kathaigal tamil""kutte se sex story""mastram com net""sex story hindi maa beta""sex story beti""मस्तराम सेक्स""mastram sexstory""bhai bahan ki sex kahani""marathi latest sex stories""maa bete ki sex story""baap beti sexy story""antarvasna history in hindi""bhai bhan sex""mastram sexstory""antarvasna risto me""maa beta sex story in hindi""sexi story gujrati""ghode jaise lund se chudai""ww antarvasna""mastram net story""antarvasana hindi sexy story""maa beta sexy story in hindi""xxx sex story in tamil""sexi marathi katha""choti bachi ki chudai ki kahani""hindi kamasutra kahani""marathi sex stories in marathi language""bahan ki chudayi""sex story bhai bhan""bahan ki bur""www marathisexstory""परिवार में चुदाई""ghar ki chut""punjabi sexy storys""chudai ki dastan""bahu chudai"antarvasna.con"sunny leone ki chudai ki kahani""animal sex kahani""परिवार में चुदाई""grup sex story""baap beti antarvasna""mastram ki nayi kahani""bhai behan ki chudai hindi""sex story marathi new""mast kahaniya""bahan ki chudai hindi story""हैदोस मराठी पुस्तक"