e1.v-koshevoy.ru

New Hindi Sex Stories

बेटे के लंड ने मेरी चूत का भुरता बना दिया

हेल्लो मेरे प्यारे लंड के मालिको मै भी एक चूत की मालकिन हु सो में चूत में तो हमेशा आग लगी रहती है और मस्तराम डॉट नेट कहानिया पढ़ के तो येसा लगता है कोई मिल जाता तो फड़वा लेती अपनी चूत को | आज इस मस्तराम डॉट नेट पर अपने साथ हुई एक अनोखी घटना लिखने जा रही हूँ, जिससे मेरी लाईफ में बहुत बदलाव आ गया. अब में सीधे स्टोरी पर आती हूँ. मेरा नाम रागिनी है और ये घटना मेरे और मेरे बेटे सुजीत के बीच की है. तो अब में आपको अपने बारे में बताती हूँ. मेरी उम्र 38 साल है और मेरे बेटे की उम्र 20 साल है, में एक हाउसवाईफ हूँ और मेरे पति एक बड़ी कंपनी में इंजीनियर है. हम इंदौर में रहते है. एक बार मेरे पति का ट्रान्सफर सिंगापूर में 2 महीने के लिए हो गया तो सुजीत और में भी उनके साथ सिंगापूर घूमने के लिए उनके साथ चल पड़े. सिंगापूर एक खूबसूरत शहर है और वही पर कंपनी की तरफ से हमें फ्लेट मिला था. मेरे पति सुबह जल्दी ही ऑफिस चले गये और शाम को जब वो आए तो उन्होंने बताया कि वो 15 दिन के लिए दूसरी सिटी के ऑफिस में जायेंगे और वही रहेंगे. मेरा और सुजीत का मूड बिल्कुल खराब हो गया. दोस्तों आप यह कहानी मस्तराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है | तब उन्होंने कहा कि तुम दोनों यहाँ घूमो और में 15 दिन के बाद वापस आ जाऊंगा. फिर अगले दिन वो चले गये. अब मेरा बिल्कुल मूड खराब हो गया था. तब सुजीत मेरे पास आया और उसने मुझसे कहा कि माँ चलो बाहर घूमकर आते है. फिर हम दोनों सिंगापूर घूमने निकल पड़े, अब हम दोनों ने घूमते हुए काफ़ी इन्जॉय किया और मेरा मूड भी फ्रेश हो गया था.

फिर हम दोनों शॉपिंग के लिए गए, फिर सुजीत ने अपने लिए कपड़े खरीदे, लेकिन मेरे लिए वहाँ पर कुछ खरीदने के लिए नहीं मिला, क्योंकि में केवल सलवार सूट और साड़ी ही पहनती थी. तब सुजीत ने मुझे जीन्स टी-शर्ट ओर शॉर्ट्स दिलवाए, मैंने उसे काफ़ी मना किया, लेकिन वो बोला कि माँ यहाँ तो आप ये पहन सकती हो और आप पर ये कपड़े अच्छे भी लगेंगे, मैंने भी वो ले लिए. फिर मैंने अपने लिए ब्रा और पेंटी भी खरीदी. तब सुजीत ने मुझे नेट वाली ब्रा और स्ट्रिप्स वाली पेंटी पसंद करने को कहा और बोला कि ये आप पर बहुत सेक्सी लगेगी. दोस्तों आप यह कहानी मस्तराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है | अब में उसको ऐसा करता देखकर हैरान हो गयी. जब मैंने ट्राई रूम में जाकर कपड़े पहने और सुजीत को दिखाए तो उसने कहा कि माँ आप बहुत हॉट लग रही हो तो मैंने स्माइल देकर कहा कि चल हट. फिर में वही ड्रेस पहनकर सुजीत के साथ अपने फ्लेट पर आ गयी और फिर वहाँ आने के बाद हमने खाना खाया और टी.वी देखने लगे. तब सुजीत ने कहा कि माँ क्या आपको आज घूमने में मज़ा आया? तो मैंने हाँ में सिर हिलाया. सुजीत ने कहा कि माँ क्या हम कल शाम को डिस्को में चले? मेरा मूड वहाँ जाने को कर रहा है और वहाँ पर सिंगल एंट्री नहीं है तो हम दोनों चले. फिर मैंने पहले उसे मना कर दिया, लेकिन सुजीत ने ज़िद करते हुए कहा कि वहाँ हम दोनों डांस करेंगे और काफ़ी मज़ा आयेगा. दोस्तों आप यह कहानी मस्तराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है | फिर मैंने उसे हाँ कर दी तो सुजीत ने खुश होकर मुझे हग कर लिया और थैंक्स माँ बोलकर मेरे गाल पर किस भी कर दी और वो सोने चला गया. उसके गले लगने और किस करने पर में रात को सोते वक्त उसके बारे में ही सोचती रही कि कहीं सुजीत मुझे एक माँ की बजाए, एक हॉट औरत की तरह देख रहा है और हर समय मुझे टच करने के लिए मेरे करीब रहने की कोशिश करता रहता है. दोस्तों आप यह कहानी मस्तराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है | फिर ये सोचते हुए में सो गई और अगली सुबह में उठी और सुजीत को जगाया और हम दोनों ने फ्रेश होकर नाश्ता किया और मैंने सुजीत से कहा कि में नहाने जा रही हूँ और मेरे नहाने के बाद तुम भी नहा लेना, फिर हम घूमने चलेंगे तो सुजीत ने हाँ में सिर हिलाया और में नहाने आ गयी. फिर नहाने के बाद मैंने सुजीत को आवाज़ दी और मेरी ब्रा और पेंटी देने को कहा जो कि में जानबूझ कर लेकर नहीं आई थी, क्योंकि में सुजीत को देखना चाहती थी कि वो मेरे बारे में क्या सोचता है? और में भी उसको पसंद करने लगी थी तो में उसको गर्म करना चाहती थी. दोस्तों आप यह कहानी मस्तराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है | अब सुजीत मेरी ब्रा और पेंटी ले आया और मुझे बाहर से ही देने लगा, तो मैंने उसको अंदर बुला लिया. अब में उस समय केवल टावल में ही थी, जिसमें से मेरे 36 इंच के बूब्स आधे दिखाई दे रहे थे और नीचे से मेरे पैर घुटनों तक दिखाई दे रहे थे. अब सुजीत मुझे देखता ही रह गया. फिर मैंने उससे ब्रा और पेंटी लिए और उसको बाहर भेजकर में कपड़े पहनकर आई. फिर मैंने काले कलर का टॉप पहना, जिसमें से मेरी पूरी कमर दिखाई दे रही थी और मेरे बूब्स की क्लीवेज दिखाई दे रही थी और नीचे मैंने स्कर्ट पहनी हुई थी, जिसमें से मेरी आधी जांघे भी दिख रही थी. अब मुझे देखकर सुजीत का बुरा हाल हो गया था और उसके शॉर्ट में मैंने उसके लंड को पहली बार खड़ा होते हुए देखा था. अब उसका लंड काफ़ी बड़ा दिख रहा था. फिर वो भी नहाने चला गया और फिर उसके नहाकर आने के बाद हम घूमने चले गए और बाहर ही खाना खाया और शाम तक घूमते रहे. अब हम एक दूसरे के हाथों में हाथ लिए जा रहे थे. अब मुझे सुजीत का साथ काफ़ी पसंद आ रहा था.

फिर हम एक डांस क्लब में गये और वहाँ जाकर हमने देखा कि काफ़ी लोग अपनी फ्रेंड्स के साथ इन्जॉय कर रहे है, कोई डांस कर रहा था, कोई ड्रिंक्स ले रहा था. अब में और सुजीत भी एक दूसरे के साथ डांस करने लगे. फिर सुजीत ने कहा कि चलो कोल्ड ड्रिंक पीते है. फिर सुजीत ने कहा कि माँ हम बियर पी ले, तो मैंने मना कर दिया, लेकिन वो ज़िद करता रहा, तो मैंने कहा चलो ठीक है, लेकिन थोड़ी सी ही पीयेंगे और हम दोनों ने बियर पी ली और हम डांस करने लगे. दोस्तों आप यह कहानी मस्तराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है | अब मुझे नशा सा होने लगा और हम दोनों काफ़ी पास हो कर डांस करने लगे थे. अब हम दोनों एक दूसरे की बाहों में बाहें डालकर डांस कर रहे थे. तब सुजीत ने अपना एक हाथ मेरी कमर पर रखा और मुझे धीरे-धीरे पीछे से सहलाता रहा और एक हाथ मेरे पेट की साईड में रखते हुए मेरे कूल्हों तक ले गया और वो मेरे बिल्कुल पास आ गया था. उसका चेहरा बिल्कुल मेरी साईड में था और वो अपने गाल मेरे गालों से रगड़ रहा था. फिर मैंने महसूस किया कि उसका लंड खड़ा हो गया है और मेरी जांघो पर रगड़ रहा है तो अब मेरे शरीर में एकदम से बिजली दौड़ गयी और में सुजीत के साथ बिल्कुल चिपक गई और फिर वो अपने होंठो को मेरे होंठो के पास लाया और हम किस करने लगे. फिर कुछ देर किस करने के बाद हम वहां एक दूसरे के साथ चिपक कर डांस करते रहे. फिर थोड़ी देर के बाद हम घर पर आ गये. अब में बिल्कुल नशे में चल रही थी, फिर हम 11 बजे घर आए तो सुजीत मुझे पकड़कर ला रहा था. वो मेरे साथ ही मेरे कमरे में आ गया.दोस्तों आप यह कहानी मस्तराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है | अब हम दोनों बेड पर एक दूसरे की तरफ आकर लेट गये थे, तब सुजीत ने मेरी आखों में देखा और कहा कि माँ आई लव यू. मैंने उसको स्माईल दी, लेकिन मैंने उसे कुछ नहीं कहा. फिर वो मेरे करीब आ गया और मेरे टॉप के ऊपर से ही मेरे पेट को सहलाने लगा. फिर उसने मेरे होंठो पर किस किया और फिर हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे. ये किस काफ़ी लंबा था और अब हम एक दूसरे की जीभ को होंठो को चूस रहे थे.दोस्तों आप यह कहानी मस्तराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है |

फिर सुजीत और में बैठ गए और अब वो मुझे किस करते हुए मेरे कपड़े उतारने लगा. पहले उसने मेरा टॉप निकाल दिया और ब्रा के ऊपर से ही मेरे बूब्स दबाने लगा. फिर उसने मेरी स्कर्ट भी निकाल दी और वो मुझे बुरी तरह से किस करने लगा. उसके बाद उसने अपने कपड़े भी उतारे और मेरे गले लगते हुए मेरे पीछे से ब्रा का हुक खोल दिया और मेरे बूब्स चूसने लगा. अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. दोस्तों आप यह कहानी मस्तराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है | फिर उसने मेरी पेंटी भी उतार फेंकी और मेरी चूत को देखने लगा और फिर साथ ही साथ मेरी जांघो पर किस करते हुए मेरी चूत को चाटने लगा. अब मुझे तो बड़ा मज़ा आने लगा था. अब मेरी सिसकारियाँ निकलने लगी थी और में उसका सिर पकड़कर अंदर की तरफ दबाने लगी. अब मेरा तो बुरा हाल हो गया था और अब में आआआआ सुजीत बेटा बड़ा मज़ा आ रहा है, हाइईईई उईईइ की आवाज़े निकाल रही थी. उसके बाद सुजीत अपना लंड मेरे मुँह के पास लाने लगा और मुँह में लेने को कहा तो में उसे मना करने लगी, लेकिन सुजीत ने ज़बरदस्ती मेरे मुँह में अपना लंड डाल दिया और मेरे सिर को पकड़कर अंदर बाहर करने लगा. अब मुझे लंड चूसने में मज़ा आने लगा था और कुछ देर लंड चूसने के बाद सुजीत ने मुझे सीधा लेटा दिया और अपने लंबे लंड को मेरी चूत पर रखकर धक्का मारा. मेरी तो जान निकल गयी थी. आआआ सुजीत बेटा आराम से में मर गयी उूउउफफफ्फ़, सुजीत का लंड उसके पापा से भी लंबा और मोटा था. फिर मैंने ये नहीं सोचा था, अब मुझे बहुत दर्द हो रहा था, अब सुजीत अपने लंड को मेरी चूत के अंदर बाहर करने लगा. और अब मेरी भी चीखे निकल रही थी, अयाया में मर गयी, आराम से उूउउइइइ माँ आआआअ, अब में बहुत चिल्ला रही थी, लेकिन कुछ देर के बाद मुझे भी मज़ा आने लगा और में अपनी गांड उठा उठाकर सुजीत का साथ देने लगी और कुछ देर के बाद हम दोनों ने एक साथ पानी छोड़ दिया. फिर हम ऐसे ही लेटे रहे और उस रात सुजीत ने मुझे कई बार चोदा और मेरी गांड भी मारी. और फिर हम एक दुसरे से चिपक कर सो गये फिर सुबह जब मेरी नीद खुली तो देखा सुजीत चाय बना रहा था और मै पूरी नंगी थी और फिर बिस्तर से उठ कर बोथ्रुम गयी और फ्रेश हो कर बाहर निकली तो देखा सुजित अपने लौड़े पर तेल से मालिश कर रहा था और मुझे देख कर बोला मोम आपकी चूत बड़ी मजेदार है एसे लगा अभी मै किसी जवान लड़की को चोद रहा था मै उसके पास जा कर बेड पर बैठ गयी और और उसका लौड़ा अपने मुह में भर ली और खूब तेजी से ऊपर निचे करने लगी और अब उसका लौड़ा एकदम टाइट रड की तरह हो चूका था और इधर मेरी चूत से पानी निकल रहा था फिर मैंने सुजीत से खान बेटा मेरी चूत भी गीली हो चुकी है तू मेरे ऊपर आ जा फिर सुजीत मेरी चूत में जीत डाल दिया और चूत को दोनों हाथो से खीच कर चौड़ा कर दिया और चूत के अन्दर खूब जोर से चटाई कर रहा था मै उसके मुह में दो बार झड चुकी थी और फिर मैंने सुजित को अपने ऊपर खीच लिया और उसने अपना लौड़ा मेरी चूत के छेद  पर सेट कर मेरे ऊपर लेट गया और दोनों हाथो में मेरे दोनों बूब्स पकड़ के मसल भी रहा था और चूत में जोर जोर से झटके भी मार रहा था और करीब 25 मिनट तक एसे ही झटके मरता रहा और इतने टाइम में मेरी चूत कम से कम 6 बार पानी छोड़ चुकी थी और फिर से झड़ने वाली थी की सुजित ने बोला मोम मेरा होने वाला है मैंने सुजित को कस के पकड़ किया है मै भी साथ में झड गयी उस फिर हम दोनों माँ बेटे 15 दिनों में करीब २०० बार चुदाई किये जितनी मै पूरी लाइफ में न चुदी थी शायद अब हम दोनों ऐसे ही सेक्स करते रहे और अब तक भी कर रहे है. और फिर मै अपने बेटे के दोस्तों से भी चुदी वो सब कहानी आप लोगो की प्रतिक्रीया आने के बाद लिखुगी |

पढ़ते रहिये मस्तराम डॉट नेट और आप अपनी भी कहानी पोस्ट कर सकते है मस्तराम डॉट नेट पर आप अपनी कहानी मस्तराम डॉट नेट पर भेजने के लिए यहाँ क्लिक करे .. पोस्ट कहानी



e1.v-koshevoy.ru: Hindi Sex Kahani © 2015


"chudakad pariwar""sex story in marathi new""ma beti ki chudai""beti ki bur""bhai behan ki chudai ki story"desimmstory.com"कामसूत्र की कहानी""zavazavi story in marathi""mosi ki ladki ki chudai""bap beti ki sex stories""bahu sex stories""pandit ne choda""mastram chudai""malayalam incest stories""meri phali chudai""mastram sex hindi story""behno ki chudai""bahu ki gand""free hindi sex story antarvasna""maa beta sex khani""mami ke sath sex story""sexy kahani baap beti""kutte ne choda""antarvasna hindisexstories""animal sex story""mastram ki nayi kahani""chodan com hindi sex story""hindi sex story baap beti""mastram ki kahani in hindi font""mastram net story""हिंदी सेक्सी स्टोरीस""maa aur beti ki chudai""sunny leone sex story in hindi""hindi sex story mami""www mastram net com""behan ki chudai hindi mai""maa beta chudai ki kahani""antervasna hindi stori""bhai behan ki chudai ki kahani hindi""paraye mard se chudai""chodan story""marathi sexi store""सेकसी कहानियाँ""bhai behan sex stories""dost ki beti ko choda""jeth ne choda""sex store in marathi""mom son sex stories in hindi""mausi ki ladki ko choda""payal ki chudai""sexi kahani in marathi""sasur ne bahu ko choda"www.antarvasnasexstories"kamasutra kathaigal tamil""maa ki gaand""maa ko dost ne choda""marathi latest sex stories""tamil xxx stores""chachi ki chudai ki""chodan kahani""maa bete ki sex kahani hindi""mastram ki hindi kahaniya with photo""mastaram hindi sex story""antarvasna story maa beta""baap beti sex story hindi""antarvasna stories 2016""kamuk katha marathi"englishsexstories"sali ki seal todi""kutte ne choda""kamasutra sex story in hindi""mastram nat""group me chudai""dost ki beti ki chudai""bhai bahan ki sex story in hindi""maa bete ki sex kahani hindi mai"antarvasna.con"mastaram hindi sex story""mastaram hindi sex story""gandu antarvasna""hindi cudai ki kahani"